Bank Full form in Hindi

Bank Full Form in Hindi- इस पोस्ट में हम बैंक की फुल फॉर्म के बारे में चर्चा करेंगे और साथ ही बैंक से जुड़ी कुछ रोचक बातें भी बताएंगे, जोकीं आपको शायद किसी भी अन्य पोस्ट में नही मिलेंगी। आज के समय मे बैंक बहुत ही महत्वपूर्ण और जरूरी हो गया है। हर कोई बैंक से किसी न किसी रूप से जुड़ा हुआ है। मौजूदा समय मे 80% से भी ज्यादा लोगों के बैंक में खाते खुले हुए हैं। हर कोई बैंक से ही पैसों का लेंनदेन करता है।

बैंक शब्द लोगों की जुबान पर बस गया है। लेकिन क्या आपने कभी ये जानने की कोशिश की है, कि bank ki full form kya hoti hai। काफी लोगों को इसका फुल फॉर्म नही मालूम होगा। मात्र 10% ही ऐसे लोग होंगे कि उनको Bank ke Full Form के बारे में मालूम होगा।

दोस्तों बैंक आज के समय मे मानव के जीवन की अहम संस्था हैं। जंहा पर लोग अपने जीवन की कमाई को जमा करके रखते हैं और जरूरतमंद लोग बैंक से कर्ज लेकर अपना काम चलाते हैं। इस तरह हर कोई बैंक से प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से जुड़ा है। ऐसे में ये भी जरूरी है, कि bank ka Full Form आपको मालूम होना चाहिए। क्या पता कब कौन सज्जन आपसे इसकी फुल फॉर्म पूँछ बैठें। चलिये Full Form of Bank in hindi इसके बारे में अब जान लेते हैं।

Bank Full Form in Hindi

बैंक की फुल फॉर्म बॉरोइंग, असेप्टिंग, नगोसीएटिंग, कीपिंग होती है।

B- Borrowing (उधार देना)

A- Accepting (स्वीकार करना)

N- Negotiating (बातचीत करना)

K- keeping (अपने पास रखना)

Bank kya hai

बैंक एक वित्तीय संस्थान होती है जोकी जनता से जमा स्वीकार करता है और साथ ही खाताधारकों को ऋण की मांग करने पर उनको ऋण उपलब्ध कराता है। बैंक के द्वारा उधार देने की प्रक्रिया बैंक के द्वारा प्रत्यक्ष रूप से की जाती है या फिर परोक्ष रूप से पूंजी बाजार के माध्यम से की जा सकती हैं।

किसी भी देश की वित्तीय स्थिरता और अर्थव्यवस्था में बैंक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, इसलिए अधिकांश क्षेत्राधिकार बैंकों पर उच्च स्तर के नियम और कानून लागू होते हैं।

एक बैंक एक बहुत ही वित्तीय संस्थान है जिसे जमा प्राप्त करने और ऋण देने के लिए लाइसेंस प्राप्त है। बैंक वाणिज्यिक/खुदरा और निवेश बैंक हैं ये बैंक के प्रकार हैं। इस तरह प्रकार के आधार पर, एक बैंक सुरक्षित जमा बॉक्स और मुद्रा विनिमय प्रदान करने से लेकर सेवानिवृत्ति और धन प्रबंधन तक विभिन्न वित्तीय सेवाएं भी प्रदान करने का कार्य सकता है।

Oldest Bank in World (दुनिया का सबसे पुराना बैंक कौन सा है?)

बंका मोंटे दे पासची डि सिएना जिसको बीएमपीएस के नाम से भी जाना जाता है, ये दुनिया का सबसे पुराना बैंक है। सत्र 1472 में इसको सिएना गणराज्य के मजिस्ट्रेट के आदेश द्वारा मोंटे डी पिएटा के रूप में स्थापित किया गया था। तब से ये बैंक निरंतर संचालन में है।

बैंक से जुड़ी रोचक जानकारी

First bank in india

बैंक ऑफ हिंदुस्तान सन 1770 में

First Private bank in India

नेंदुगदी बैंक

First Fireign Bank in India (भारत मे पहला विदेशी बैंक)

Comptoire d’Escompte de Paris of France

First bank to open branch outside India

बैंक ऑफ इंडिया

First bank in india to introduce atm

एचएसबीसी बैंक

First bank started with indian capital

पंजाब नेशनल बैंक

First bank to introduce internet banking in India?

आईसीआईसीआई बैंक

First Joint Stock Bank in India?

इलाहाबाद बैंक

First bank to introduced Credit Card in India?

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया

First Bank to introduce Mutual Fund?

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया

First bank to introduce Cheque system in India?

बंगाल बैंक

First cooperative bank in India?

Anyonya कोआपरेटिव बैंक

Largest bank in India?

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया

RTGS Full Form in Hindi

NEFT Full Form in Hindi

Wife Full Form in Hindi

Tea Full Form in hindi

Bank History in India (भारत मे बैंक का इतिहास)

भारत का सबसे पहला बैंक, बैंक ऑफ हिंदुस्तान था, जिसकी स्थापना 1770 में हुई थी। द जनरल बैंक ऑफ इंडिया दूसरा बैंक था, इसकी शुरुआत 1786 में हुई थी।

भारतीय स्टेट बैंक भारत में अभी भी अस्तित्व में सबसे पुराना बैंक है। इसकी शुरुआत 1806 में हुई थी। बैंक ऑफ बंगाल, बैंक ऑफ बॉम्बे और बैंक ऑफ मद्रास, इन तीन बैंकों का विलय 1921 में इम्पीरियल बैंक ऑफ इंडिया बैंक को बनाने के लिए हुआ था, जिसको बाद में सन 1955 में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया कर दिया गया।

विदेश में शाखा खोलने वाला पहला भारतीय बैंक, बैंक ऑफ इंडिया है। 1946 में इसने लंदन में एक शाखा की स्थापना की थी।

भारत में सबसे पुराना मौजूदा समय मे सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक इलाहाबाद बैंक है।

पूरी तरह से भारतीय पूंजी निवेश से शुरू किया गया पहला भारतीय बैंक पंजाब नेशनल बैंक है। लाला लाजपत राय इस बैंक के संस्थापक थे।

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया है, भारतीयों के स्वामित्व और प्रबंधन वाला पहला भारतीय वाणिज्यिक बैंक है।

आईएसओ सर्टिफाइड वाला भारत का पहला बैंक केनरा बैंक है।

महात्मा गांधी ने 1919 में यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (यूको) बैंक का उद्घाटन किया था।

सबसे अधिक विदेशी शाखाएं बैंक ऑफ बड़ौदा की हैं।

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की स्थापना 1935 में हुई थी।

मोबाइल एटीएम सुविधा प्रदान करने वाला आईसीआईसीआई पहला बैंक है।

ओसबोर्न स्मिथ रिजर्व बैंक के सबसे पहले गवर्नर थे।

सीडी देशमुख रिजर्व बैंक के गवर्नर बनने वाले सबसे पहले भारतीय थे।

पहली बार भारत मे बैंकों का राष्ट्रीयकरण 19 जुलाई 1969 को हुआ था।

बचत खाता प्रणाली की शुरुआत भारत मे प्रेसीडेंसी बैंक, 1833 द्वारा की गई थी।

जब दुनिया भर में में अधिकतम शाखाओं की संख्या वाली बैंक की बात आती है, तो भारतीय स्टेट बैंक दूसरे स्थान पर है।

इलाहाबाद बैंक 1865 कोलकाता

आंध्रा बैंक 1923 हैदराबाद

बैंक ऑफ बड़ौदा 1908 वडोदरा

बैंक ऑफ इंडिया 1906 मुंबई

केनरा बैंक 1906 बैंगलोर

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया 1911 मुंबई

कॉर्पोरेशन बैंक 1906 मैंगलोर

देना बैंक 1938 मुंबई

आईडीबीआई बैंक लिमिटेड 1964 मुंबई

इंडियन बैंक 1907 चेन्नई

इंडियन ओवरसीज बैंक 1937 चेन्नई

ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स 1943 गुड़गांव

पंजाब एंड सिंध बैंक 1908 नई दिल्ली

पंजाब नेशनल बैंक 1895 नई दिल्ली

भारतीय स्टेट बैंक 1955 मुंबई

सिंडिकेट बैंक 1925 मणिपाल

यूको बैंक 1943 कोलकाता

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया 1919 मुंबई

यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया 1950 कोलकाता

विजया बैंक 1931 बैंगलोर

उम्मीद है कि Bank Full Form in Hindi ये अर्टिकल आपको पसन्द आया होगा, क्योंकि इस पोस्ट में मैंने bank ki full form के साथ ही बैंक से जुड़ी ऐतिहासिक बाते भी बताई हैं, जोकीं आपके लिए बहुत ही नॉलेजफुल साबित होगी।

Leave a Comment